एंड्राइड फोन और आईफोन में क्या अंतर है - समझें इन 20 बिंदुओं में | 20 Differences between Android and iPhone

एंड्राइड फोन और आईफोन में क्या अंतर है - समझें इन 20 बिंदुओं में | 20 Differences between Android and iPhone

क्या आप जानते हैं कि एंड्राइड फोन और आईफोन में क्या अंतर है? मूल रूप से देखा जाये तो एंड्राइड और आईफोन एक जैसे ही हैं. पहली नजर में इनमें समानताएं अधिक और असमानताएं कम नजर आती है, पर इनमें कई बड़ी असमानताएं हैं जिन्हें समझना बहुत आवश्यक है ताकि स्मार्टफोन खरीदते समय आप अपने हिसाब से सही निर्णय ले पाए.

इस आर्टिकल में आपको पता चलेगा कि आखिर ये एक दूसरे से अलग कैसे हैं. वैसे इनमें अंतर तो बहुत से हैं, पर यहाँ पर हम सिर्फ मुख्य अंतरों की ही बात करेंगे जो वास्तव में आपके लिए मैटर करेंगी. तो चलिए जानते हैं एंड्राइड और आईफोन में अंतर.

Android और iPhone में क्या अंतर है? 

1. एंड्राइड फोन गूगल के ऑपरेटिंग सिस्टम Android पर चलते हैं जबकि आईफोन एप्पल कम्पनी के ऑपरेटिंग सिस्टम IOS पर चलते हैं. अर्थात दोनों के ऑपरेटिंग सिस्टम अलग-अलग हैं.

2. एंड्राइड फोन को दुनिया में अनेक कम्पनिया बनाती है जबकि आईफोन को सिर्फ एक कम्पनी एप्पल (जो कि एक अमेरिकन कंपनी है) ही बनाती है.

3. एप्पल कम्पनी आईफोन के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर स्वयं बना कर आईफोन में लगाती है जबकि एंड्राइड बेस्ड फोन के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर अलग-अलग कंपनियों द्वारा तैयार किया जाता है.

4. आईफोन एंड्राइड फोन की तुलना में कई गुना अधिक महंगे होते हैं, इसका प्रमुख कारण यह है कि आईफोन की हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की क्वालिटी बहुत अच्छी होती है एंड्राइड फोन की तुलना में. एंड्राइड फोन सस्ते होते हैं इसलिए अधिकतर लोग एंड्राइड फोन ही खरीदते हैं.

5. आईफोन में आपको ओवरहीटिंग और हैंगिंग की प्रोब्लेम्स देखने को नहीं मिलती जबकि एंड्राइड फोन्स में ये समस्याएँ बहुत कॉमन है.

6. एप्पल कंपनी अपने आईफोन मोबाइल युजर्स को समय-समय पर अपडेट के विकल्प देती हैं जबकि एंड्राइड फोन की बहुत कम ही कम्पनिया है जो नियमित सॉफ्टवेयर अपडेट देती है. 

7. आईफोन का ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्राइड फोन के ऑपरेटिंग सिस्टम की तुलना में काफ़ी अच्छा और फ़ास्ट है; एंड्राइड में एप्प अपडेट करने में काफी समय लगता है जबकि आईफोन में ऐसा नहीं है.

8. एंड्राइड के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम पुराने एंड्राइड फोन को सपोर्ट नहीं करते हैं जबकि आईफोन के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम पुराने आईफ़ोन में भी सपोर्ट करते हैं.

9. यदि आपके एंड्राइड फोन में कोई खराबी आ जाती है तो आपको उसी कम्पनी के स्टोर में जाना पड़ता है जिस कम्पनी का आपका फोन है. वही यदि आपके आईफोन में कोई खराबी आती है तो आप नजदीकी एप्पल स्टोर में जाकर उसे ठीक करा सकते हैं. 

10. आईफोन अपने जबरदस्त कैमरा क्वालिटी के लिए भी जाना जाता है और इसका कैमरा DSLR को भी टक्कर दे देता है जबकि एंड्राइड फोन में आपको कैमरे की पिक्चर क्वालिटी आईफोन की तुलना में काफी निम्नतर मिलती है.

11. आईफोन ने गेमिंग प्लेटफार्म में भी बहुत अच्छा काम किया है. इसलिए सामान्यतः कोई भी गेम पहले IOS के लिए बनाया जाता है फिर एंड्राइड फोन के लिए. कुछ गेम्स को एंड्राइड प्लेटफार्म पर डेवलप होने में प्रॉब्लम आ रही है और इसलिए कुछ गेम कंपनियों ने एंड्राइड के लिए गेम्स बनाना बंद भी कर दिए.

12. यदि आपके पास आईफोन है तो आपको प्रीमियम फील आती है जबकि एंड्राइड के साथ ऐसा कुछ नहीं है. यह एक सामान्य ट्रेंड है.

13. एंड्राइड फोन को आप अपनी सुविधानुसार कस्टमाइज कर सकते हैं जैसे होमपेज या लॉन्चर को बदलना, लॉक स्क्रीन चेंज करना इत्यादि जबकि आईफोन में आपको ये फ्लेक्सिबिलिटी नहीं मिलेगी.

14. एंड्राइड यूजर्स को सारी एप्लीकेशन्स गूगल प्ले स्टोर से मिलती है वही आईफोन यूजर को एप्लीकेशन्स एप्पल एप्प स्टोर पर मिलती है. यदि एप्स की संख्या के सन्दर्भ में बात करें तो एंड्राइड एप्लीकेशन्स की संख्या IOS से बहुत ज्यादा है. हालांकि संख्या का इतना प्रभाव नहीं है, यूजर को अपने काम से सम्बंधित एप्प स्टोर पर उपलब्ध होनी चाहिए ये अधिक आवश्यक है.

15. आईफोन को रूट करना बहुत ही मुश्किल होता है जबकि एंड्राइड फोन को आसानी से रूट किया जा सकता है और रूट करने के बाद मनचाहे तरीके से कस्टमाइज किया जा सकता है.

16. यदि दुनिया में स्मार्टफोन की संख्या को देखे तो एंड्राइड प्रथम स्थान पर आता है क्योंकि एंड्राइड फोन्स बहुत सारी कम्पनिया बनाती है और इसकी डिमांड भी बहुत है. आईफोन की संख्या एंड्राइड से बहुत कम है.

17. अधिकतर एंड्राइड फोन्स का बैटरी बैकअप सामान्यतः आईफोन से अच्छा होता है.

18. चूंकि आईफोन सिर्फ एप्पल कम्पनी द्वारा बनाया जाता है, इसलिए इसके नये मॉडल लॉन्च होने में काफी समय लग जाता है जबकि एंड्राइड को बहुत सारी कम्पनीज़ बनाती है और प्रायः प्रत्येक महीने एंड्राइड का नया मॉडल न्यू फीचर्स के साथ लॉन्च होता रहता है.

19. मल्टीटास्किंग के मामले में एंड्राइड आईफोन से काफी आगे है. उदारहण के लिए एंड्राइड में आप गाना सुनने के साथ ही ऑनलाइन ब्राउज़िंग भी कर सकते हैं अर्थात एंड्राइड में आप एक साथ बहुत सारे काम कर सकते हैं जबकि आईफोन में मल्टीटास्किंग का ऑप्शन नहीं मिलता है इसमें आप एक समय में एक ही काम कर सकते हैं.

20. आईफोन को देखकर आप उसके मॉडल का अनुमान नहीं लगा सकते जबकि एंड्राइड फोन को देखकर उसके मॉडल का अंदाज लगा सकते हैं.

तो अब आप अच्छे से समझ गए होंगे कि एंड्राइड स्मार्टफोन और आईफोन में क्या अंतर है और किसकी क्या विशेषता है. कुल 20 प्रमुख अंतर हमनें आपके सामने प्रस्तुत किये हैं जिससे आपको आसानी से इन दोनों प्रकार के स्मार्टफोन्स के सम्बन्ध में अच्छा खासा आईडिया हो जाये. अगर आपको HindiHearts.in का यह आर्टिकल पसंद आया हो, तो इसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें.
और नया पुराने